क्रिप्टोक्यूरेंसी का परिचय

बाजार के रुझान

बाजार के रुझान
गिरावट का इंतजार न करें
निवेश के लिए बाजार नीचे आने का इंतजार न करें। बाजार जब चढ़ रहा हो तो कई निवेशक यह सोचकर शेयर नहीं खरीदते कि अभी निवेश महंगा साबित होगा। उन्हें लगता है कि बाजार जल्द गिर सकता है। ऐसे लोग दर्शक बने रह जाते हैं। उनके लिए निवेश का सही वक्त कभी नहीं आता।

मिले-जुले रुझानों के बीच हरे निशान पर खुला बाजार, सेंसेक्स-निफ्टी में मामूली बढ़त

नई दिल्लीः वैश्विक बाजार से मिले-जुले रुझान के बीच घरेलू बाजार सपाट ढंग से खुले। हफ्ते के दूसरे कारोबारी फिलहाल सेंसेक्स 54.67 अंकों की बढ़त के साथ 61199 अंकों के लेवल पर कारोबार करता दिख रहा है। वहीं दूसरी ओर, निफ्टी भी 17.85 अंकों की मामूली बढ़त के साथ 18177.80 अंकों के लेवल पर कारोकर रहा है।

सेंसेक्स 18 अंकों की गिरावट के साथ 61126 पर खुला, जबकि निफ्टी 19 अंकों की तेजी के साथ 18179 के स्तर पर ओपनप हुआ। बैंक निफ्टी 120 अंकों की मजबूती के साथ 42467 अंकों पर कारोबार करता दिखा। मंगलवार के कारोबारी सेशन में LT, बजाज फाइनेंशियल सर्विसेज, मारुती, डॉ रेड्डी जैसे शेयरों में मजबूती दिख रही है। वहीं, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज, पावर ग्रिड, नेस्ले इंडिया और टाटा स्टील में कमजोरी है। बीते दिन सोमवार को सेंसेक्स अंकों तक टूट गया था।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

पाकिस्तान सरकार को नए सेना प्रमुख, सीजेसीएससी की नियुक्ति के लिए मिले छह नाम

पाकिस्तान सरकार को नए सेना प्रमुख, सीजेसीएससी की नियुक्ति के लिए मिले छह नाम

रेलवे ने बीते 16 महीने में हर तीन दिन में एक ‘निकम्मे या भ्रष्ट’ अधिकारी को बर्खास्त किया

रेलवे ने बीते 16 महीने में हर तीन दिन में एक ‘निकम्मे या भ्रष्ट’ अधिकारी को बर्खास्त किया

इंदौर की तर्ज पर स्वच्छ होंगे UP के शहर, CM योगी के निर्देश पर टीम ने MP का दौरा कर ली स्वच्छता मॉडल की जानकारी

इंदौर की तर्ज पर स्वच्छ होंगे UP के शहर, CM योगी के निर्देश पर टीम ने MP का दौरा कर ली स्वच्छता मॉडल की जानकारी

Market Outlook This Week: तिमाही नतीजों और ग्लोबल ट्रेंड्स से तय होगी इस हफ्ते बाजार की चाल, क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स

Market Outlook This Week: तिमाही नतीजों और ग्लोबल ट्रेंड्स से तय होगी इस हफ्ते बाजार की चाल, क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स

घरेलू शेयर बाजारों की दिशा इस सप्ताह घोषित होने वाले तिमाही नतीजों और वैश्विक रुझानों से तय होगी.

Market Outlook This Week: घरेलू शेयर बाजारों की दिशा इस सप्ताह बाजार के रुझान घोषित होने वाले तिमाही नतीजों और वैश्विक रुझानों से तय होगी. इसके अलावा विदेशी पूंजी का प्रवाह भी बाजार की दिशा तय करने में अहम भूमिका निभाएगा. एनालिस्ट्स ने यह राय जताई है. उन्होंने कहा कि रुपये में उतार-चढ़ाव और अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड में रुझान भी कारोबार को प्रभावित करेंगे.

क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स

स्वस्तिका इन्वेस्टमेंट लिमिटेड में रिसर्च हेड संतोष मीणा ने कहा, ‘‘बाजार की नजर दूसरी तिमाही के नतीजों और वैश्विक रुझानों पर होगी. इस बाजार के रुझान हफ्ते कई वित्तीय कंपनियों और सीमेंट कंपनियों के दूसरी तिमाही के परिणाम जारी होने वाले हैं. वैश्विक बाजारों में अस्थिरता बहुत है जिसका प्रभाव हमारे बाजार पर भी पड़ सकता है.’’ उन्होंने कहा कि वैश्विक स्तर पर अमेरिका और चीन के व्यापक आंकड़े महत्वपूर्ण होंगे. इसके अलावा डॉलर सूचकांक, कच्चा तेल और अमेरिकी बांड के परिणामों पर भी नजर रखनी होगी. रेलिगेयर ब्रोकिंग के उपाध्यक्ष-शोध अजित मिश्रा ने कहा, ‘‘एसीसी, अल्ट्राटेक सीमेंट, इंडसइंड बैंक, एक्सिस बैंक, एशियन पेंट्स, बजाज फाइनेंस, आईटीसी और हिंदुस्तान यूनिलीवर जैसी बड़ी कंपनियां और कई अन्य कंपनियां नतीजे घोषित करने वाली हैं.’’

इस हफ्ते तिमाही नतीजे होंगे अहम

एचडीएफसी बैंक ने शनिवार को सितंबर तिमाही के नतीजे घोषित किए जिनके मुताबिक फंसे कर्ज के लिए प्रावधान घटाने से उसका समेकित शुद्ध लाभ 22.30 फीसदी बढ़कर 11,125.21 करोड़ रुपये हो गया है. सैमको सिक्योरिटीज के बाजार परिप्रेक्ष्य प्रमुख अपूर्व सेठ ने कहा कि इस हफ्ते सारा ध्यान कंपनियों के तिमाही नतीजों पर रहेगा तथा भावी आय वृद्धि के बारे में जानना दिलचस्प रहने वाला है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and बाजार के रुझान much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

Share Market: गिरावट के साथ खुला शेयर मार्केट, एशियन पेंट्स और आईटीसी के शेयर्स में तेजी

गिरावट के साथ खुला आज शेयर बाजार

  • नई दिल्ली,
  • 02 अगस्त 2022,
  • (अपडेटेड 02 अगस्त 2022, 10:09 AM IST)
  • 1036 शेयरों में दर्ज की गई तेजी
  • एशियाई बाजारों में भी आज बाजार के रुझान बाजार के रुझान गिरावट

बेहतरीन ग्लोबल इंडेक्स और खरीदारी में विदेशी निवेशकों की वापसी के दम पर सोमवार को शेयर मार्केट की चाल शानदार रही थी. लेकिन बाजार के रुझान आज सुबह (मंगलवार, 2 अगस्त) भारतीय शेयर बाजार (Indian Share Market) गिरावट के साथ खुला. पहले सेशन में सुबह 09:16 बजे बीएसई सेंसेक्स (BSE Sensex) 171.83 अंक ( 0.30%) की गिरावट के साथ 57943 के स्तर पर ओपन हुआ. वहीं, निफ्टी (Nifty) 68.50 अंक ( 0.40%) गिरकर 17271 पर खुला. लगभग 1036 शेयरों में तेजी दर्ज की गई, 874 शेयरों में गिरावट आई बाजार के रुझान और 91 शेयरों में कोई बदलाव नहीं हुआ.

बाजार का रुख कैसा भी हो, निवेश करते रहें: शेयर बाजार निचले स्तर पर हो बाजार के रुझान या ऊंचाई पर, धैर्य हो तो हर हाल में होता है फायदा

रिटेल निवेशक आम तौर पर इक्विटी में निवेश से कतराते हैं। धैर्य, जिज्ञासा और जानकारी का अभाव इसकी वजह होती है। ऐसे में वे सही तरीके से पैसा कमाने के इस शानदार जरिए का पूरा फायदा नहीं उठा पाते। कुछ लोग इक्विटी में निवेश के बारे सोचते भी हैं तो बाजार में उतार-चढ़ाव को लेकर सीमित बाजार के रुझान बाजार के रुझान समझ उन्हें ऐसा करने से रोक देती है।

ज्यादातर लोगों को लगता है कि "सस्ता खरीदो और महंगा बेचो'' का नियम शेयर बाजार में काम नहीं करता है। कभी-कभार भारी उतार-चढ़ाव इसकी वजह होती है। लेकिन यह समझ गलत है क्योंकि शेयरों के मामले में यह नियम लंबी अवधि में काम करता है। असल में कोई भी निवेशक या विश्लेषक इस बात का सटीक अंदाजा नहीं लगा सकते कि बाजार कब चढ़ेगा और किस लेवल से इसमें गिरावट शुरू होगी। इसलिए बाजार का रुख कैसा भी हो, निवेश करते रहेंगे तो निश्चित तौर पर जोरदार कमाई होगी। यूनियन म्यूचुअल फंड के सीईओ जी प्रदीप कुमार आपको इक्विटी इन्वेस्टमेंट की बारीकियों को समझा रहे हैं.

छत्तीसगढ़-तेलंगाना में है ये हाल

अगर बात छत्तीसगढ़ की करें तो यहां पर सटोरिए भाजपा पर भरोसा कर रहे हैं. अनुमान बाजार के रुझान लगाया जा रहा है कि भाजपा को 42-43 सीटें मिलेंगी, जबकि कांग्रेस को 36-37 सीटें मिलेंगी. अजित जोगी के गठबंधन को 7 सीटें मिलने का अनुमान है. यहां दूसरे चरण के मतदान के बाद भाजपा की दावेदारी और मजूबत हो गई है. हर 1 रुपए के सट्टे पर भाजपा के जीतने पर 90 पैसे मिलेंगे, जबकि कांग्रेस के जीतने पर 1.40 रुपए मिलेंगे. वहीं दूसरी ओर, तेलंगाना के सट्टा बाजार में टीआरएस के दोबारा सत्ता में आने का अनुमान लगाया जा रहा है.

सट्टा बाजार में पैसे लगाने वालों बाजार के रुझान की बात तो छोड़िए. उनका फायदा-नुकसान जानने से अधिक जरूरी ये जानना है कि सट्टा बाजार के दावों में कितना दम होता है? क्या वाकई जिस ओर सट्टा बाजार झुकता है, उसी पार्टी की जीत होती है? आइए एक नजर डालते हैं पुराने आंकड़ों पर और जानते हैं सट्टा बाजार के अनुमान सही साबित हुए या गलत-

रेटिंग: 4.96
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 464
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *