महत्वपूर्ण लेख

निवेशक सुरक्षा क्या है?

निवेशक सुरक्षा क्या है?
सुरक्षा उपकरण:

Azadi Ka Amrit Mahotsav

किसी को किसी म्यूचुअल फंड में कितने समय तक निवेश किए रखने की जरूरत होती है?

आइये एक निवेशक पर विचार निवेशक सुरक्षा क्या है? निवेशक सुरक्षा क्या है? करें जिसने एक रीयल इस्टेट ट्रान्जेक्शन में 50 लाख रु.कमाए हैं। पैसे का क्या करना है इस पर अंतिम निर्णय लेने से पहले वह निवेश के लिए एक सुरक्षित स्थान खोज रहा है। इस मामले में आदर्श योजना एक लिक्विड फंड होगी, जिसे पूंजी की सुरक्षा के लिए सामान्यतया उच्च लाभप्रदता के साथ तरलता प्रदान करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। अपनी जरूरत के हिसाब से वह कभी भी रिडीम कर सकता है।

इसलिए निवेशित रहने के समय पर निर्णय निवेश निवेशक सुरक्षा क्या है? उद्देश्य पर निर्भर करता है। निवेशकों को अपने सलाहकारों के साथ निवेश स्थिति और प्रगति की आवधिक समीक्षा करने की जरूरत होती है। ऐसी समीक्षाओं के निवेशक सुरक्षा क्या है? दौरान ही रिडीम करने, स्विच करने, निवेशित रहने या छोड़ देने के निर्णय लिए जाते हैं।

Nykaa और Paytm की इस महीने होगी अग्निपरीक्षा, हटने वाला है ये ‘सुरक्षा कवच’

Nykaa और Paytm की इस महीने होगी अग्निपरीक्षा, हटने वाला है ये ‘सुरक्षा कवच’

पेटीएम, नायका जैसी कंपनियों के आईपीओ ने शेयर मार्केट के निवेशकों को निराश किया है। इन कंपनियों की अग्निपरीक्षा इस महीने है। नायका और पेटीएम (One 97 Communications Ltd) का लॉकइन पीरियड नवंबर 2022 में समाप्त हो रहा है। यानी इस समय-सीमा के बाद कई बड़े निवेशक अपना पैसा निकाल पाएंगे। बता दें, ब्लूमबर्ग के अनुसार करीब 14 अरब डॉलर की कीमत वाले शेयरों का लॉक-इन पीरियड समाप्त हो निवेशक सुरक्षा क्या है? रहा है।

पेटीएम ने दिया है जोर का झटका

हाल ही में जिन टेक कंपनियों ने मार्केट में डेब्यू किया है उसमें सबसे अधिक की गिरावट पेटीएम के शेयरों में देखने को निवेशक सुरक्षा क्या है? मिली है। अपने आईपीओ से कंपनी के शेयर 70 प्रतिशत तक नीचे आ गए हैं। कंपनी में सन्स सॉफ्ट ग्रुप कॉर्पोरेशन, Buffett’s Berkshire Hathaway Inc और Jack Ma’s Ant Group Co जैसी कंपनियों ने दांव लगाया है। 15 नवंबर 2022 को कंपनी के शेयरों पर अतिरिक्त दबाव बनेगा। जब करीब 4.3 अरब डॉलर के शेयर अनलॉक हो जाएंगे। यानी इनके निवेश 15 नवंबर के बाद इसे बेच पाएंगे।

सेबी ने निवेशकों को नियामक सैंडबॉक्स के परिक्षण की दी अनुमति

सेबी ने निवेशकों को नियामक सैंडबॉक्स के परिक्षण की दी अनुमति |_40.1

भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (SEBI) ने निवेशकों को चुनिंदा ग्राहकों पर नियामक सैंडबॉक्स का उपयोग करने की अनुमति देने का फैसला किया है। सेबी ऐसे प्रस्तावित परीक्षणों के लिए सीमित पंजीकरण करने की अनुमति प्रदान करेगा। यह निर्णय पूंजी बाजारों में नवीनतम फिनटेक नवाचारों के उपयोग को सुविधाजनक बनाने के लिए लिया गया है। यह निर्णय बाजार नियामक भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड की बोर्ड एक बैठक में किया गया।

नियामक सैंडबॉक्स एक ऐसी प्रणाली निवेशक सुरक्षा क्या है? है जो बाजार के निवेशकों को चुनिंदा ग्राहकों पर अपने नए उत्पादों, सेवाओं और व्यापार मॉडल के परीक्षण करने में सक्षम बनाती है। प्रस्तावित नियामक सैंडबॉक्स निवेशकों, भारतीय बाजारों और अर्थव्यवस्था को बड़े पैमाने पर लाभ पहुंचाने वाले नए व्यापार मॉडल और प्रौद्योगिकी के लिए जरूरी परीक्षण करेगा। नियामक सैंडबॉक्स ढांचा निवेशक सुरक्षा क्या है? विनियमित संस्थाओं को कुछ निश्चित सुविधाओं और लचीलेपन की मदद से निवेशक सुरक्षा क्या है? वास्तविक वातावरण में और वास्तविक ग्राहकों पर फिनटेक समाधानों के साथ प्रयोग करने की अनुमति देता है। यह प्रयास निवेशक सुरक्षा और जोखिम से राहत देने के लिए जरुरी सुरक्षा उपायों को सुनिश्चित करते हुए किए जाएंगे।

रेटिंग: 4.70
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 710
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *